Notice
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/955140.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/955140.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/20 mtr 06.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/20 mtr 06.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/2.14.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/2.14.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/mathura_headlines/05 Photo No. 04.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/mathura_headlines/05 Photo No. 04.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/30 mtr 04.jpg'
  • Lack of access rights - File '/images/EDUCATION/30 mtr 04.jpg'
A+ A A-

राजीव एकेडमी के व्यावसायिक कोर्सों में प्रवेश के लिए छात्रों में भारी रुझान

राजीव एकेडमी के व्यावसायिक कोर्सों में प्रवेश के लिए छात्रों में भारी रुझानमथुरा। एकेटीयू द्वारा राजीव एकेडमी को पूरे उत्तर प्रदेश में सातवीं रैंक प्रदान किए जाने के बाद से यहाँ विभिन्न व्यावसायिक कोर्सों में प्रवेश लेने को छात्र-छात्राओं में भारी रुझान है। यहां संचालित व्यावसायिक कोर्सों की विशेषता को देखते हुए मथुरा ही नहीं आगरा, एटा, मैनपुरी, इटावा, कानपुर, फिरोजाबाद,  लखनऊ, अलीगढ़ के साथ ही बिहार के छात्र-छात्राएं भी प्रवेश में दिलचस्पी ले रहे हैं। राजीव एकेडमी में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ-साथ यहाँ उपलब्ध अत्याधुनिक संसाधन व पीडीपी कक्षाएं भी छात्र-छात्राओं की पहली पसंद हैं।  राजीव एकेडमी के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना का कहना है कि छात्र-छात्राओं के इस रुझान के पीछे यहां दी जा रही उच्चस्तरीय आधुनिक तालीम और छात्र-छात्राओं को लगातार उच्च पैकेज पर मिल रहे नौकरी के अवसर हैं। बात एमबीए और एमसीए विषयों की करें तो ये मास्टर डिग्री कोर्स छात्र-छात्राओं को उच्चस्तरीय सफलता दिलवाते हैं। एमबीए द्विवर्षीय व एमसीए त्रिवर्षीय कोर्स है जो छात्र-छात्राएं बीसीए या बीएससी कम्प्यूटर साइंस या आईटी विषयों में स्नातक हैं वे लेटरल एण्ट्री में सीधे प्रवेश ले सकते हैं। ये दोनों कोर्स डा. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनीवर्सिटी लखनऊ से अप्रूव्ड हैं। डा. सक्सेना का कहना है कि आज प्रत्येक अभिभावक यह चाहता है कि अध्ययन के दौरान ही उनका पाल्य अच्छे पैकेज पर नौकरी प्राप्त कर ले। राजीव एकेडमी में इसी धारणा को न केवल मूर्तरूप दिया जा रहा है बल्कि प्रतिवर्ष यहाँ छात्र-छात्राएं स्नातक स्तर पर ही जाब प्लेसमेंट में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर देशी-विदेशी कम्पनियों में नौकरी के लिए सेलेक्ट हो रहे हैं। विगत साल एमबीए और एमसीए के छात्र-छात्राओं का रिकार्ड उच्च पैकेज पर नौकरी के लिए चयन हुआ है। आर.के. एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि राजीव एकेडमी उच्चस्तरीय शिक्षा प्रदान करने के साथ ही प्रत्येक छात्र-छात्रा के सपने को साकार कर रही है। संस्थान के प्राध्यापकों का छात्र-छात्राओं को सरलतम तरीके से उच्च व्यावसायिक अध्ययन में निपुण करना ही उद्देश्य है।

Hits: 265

वन महोत्सव सप्ताह का हुआ समापन

चम्पा अग्रवाल इंटर कालेज में हुए समापन अवसर पर पौधे रोपण करते डीके अग्रवाल एवं अन्य मथुरा। चम्पा अग्रवाल इण्टर काॅलेजए मथुरा की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के तत्वाधान में पौधारोपण कर एवं पर्यावरण जागरुकता के संकल्प के साथ श्वन महोत्सव सप्ताहश् का समापन हो गया। शुक्रवार दिवस पर सिंडीकेट बैंक के वरिष्ठ प्रबंधक डीके अग्रवाल ने विद्यालय प्रांगण में पौधारोपण किया और छात्र एवं स्वयंसेवकों से श्वृक्ष है तो जीवन हैश् पर अमल करने का आहवान किया। इस अवसर पर वन विभाग की ओर से काॅलेज को 25 पौधे उपलब्ध कराये गये। मुख्य अतिथि ने छात्रोंए एनएसएस स्वयंसेवकों एवं शिक्षकों को वृक्षारोपण एवं पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलायी। कार्यक्रम अधिकारी अशोक कुमार वर्मा ने बताया कि वन महोत्सव सप्ताह के दौरान एनएसएस स्वयंसेवकों ने काॅलेज प्रांगण में हुए वृक्षारोपण में बढ़.चढ़कर उत्साह पूर्वक भाग लिया और नारे लेखन प्रतियोगिता नारे लिखे। इस अवसर पर प्रधानाचार्य अतुल कुमार जैन ने अपने प्रारम्भिक संबोधन में मानव जीवन में वृक्षों के महत्व पर प्रकाश डाला तथा अधिक से अधिक वृक्षारोपण के लिए स्वयंसेवकों को प्रेरित किया। इस अवसर पर वरिष्ठ प्रवक्ता बीरेन्द्र सिंहए कृष्ण मुरारीए रामवीर सिंहए नूतन कुमारए राजेन्द्र सिंहए मनोहर सिंहए प्रेम सरोज मौर्यए अनिल छौंकरए ष्याम बाबू अग्रवालए पवन कुमारए धर्मवीर सिंहए मनोज गौतमए अनिल कुमारए अरुण बंसल सहायक विष्णु दत्त शर्मा उपस्थित रहे।

Hits: 214

विशेष प्रशिक्षण पूर्ण कर लौटे एमसीए के छात्र-छात्राएं

विशेष प्रशिक्षण पूर्ण कर लौटे एमसीए के छात्र-छात्राएंमथुरा । राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट के एमसीए फाइनल सेमेस्टर के छात्र-छात्राएं ग्रेटर नोएडा स्थित माइक्रोसाफ्ट इनोवेशन सेण्टर से अपना छह महीने का विशेष प्रशिक्षण पूर्ण कर कालेज लौटे। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूर्ण करने और कई एप बनाने वाले छात्र-छात्राओं खुशी चैधरी, दिव्या चतुर्वेदी, प्रिया कुशवाह, बालकृष्ण मिश्रा, राहुल बिस्ट, विवेक दुबे, कान्हा शर्मा, जगदीश कौशिक को प्रमाण पत्र प्रदान कर प्रोत्साहित किया।

एमसीए विभागाध्यक्ष गोपाल सारस्वत ने बताया कि छह महीने के अपने विशेष प्रशिक्षण में सभी छात्र-छात्राओं ने एण्ड्रायड टेक्नोलाजी पर मेडीकेयर एप, कालेज एडमिनिस्ट्रेशन एप, जीपीएस वेस्ड वूमेन सेफ्टी एप, टूरिज्म मैनेजमेंट एप आदि पर कार्य किया। मेडीकेयर एप का उपयोग अस्पतालों में किया जा सकता है। इस एप की सहायता से मरीज डाक्टर से परामर्श कर दवाओं के विषय में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और भविष्य में स्वस्थ रहने के टिप्स और आवश्यक सलाह प्राप्त कर सकते हैं,। कालेज एडमिनिस्ट्रेशन एप जिसका उपयोग कालेज में उपलब्ध रिसोर्सिस जैसे लाइब्रेरी मैनेजमेंट, आन लाइन फी-डिपोजिट जैसी सुविधाओं को और भी सुगम बना सकता है। इसके साथ ही इस एप की मदद से कालेज-संस्था के अन्दरूनी कार्यों और व्यवस्थाओं पर पैनी नजर रखी जा सकती है। 

चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने विशेष प्रशिक्षण पूर्ण कर लौटे छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि आईटी के युग में कम्प्यूटर और मोबाइल का विशेष महत्व है। खुशी की बात है कि उच्च व्यावसायिक अध्ययन में ग्रेटर नोएडा की माइक्रोसाफ्ट लैब द्वारा प्राप्त ज्ञान के उपयोग की शुरुआत एमसीए के छात्र-छात्राओं ने समाजहित में नए-नए एप बनाकर की। प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने कहा कि आने वाले समय में राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राएं कारपोरेट जगत में भी अपनी छाप छोड़ेंगे।

 

Hits: 276

उच्च पैकेज पर मिलीं विदेशी कम्पनियों में नौकरी

उच्च पैकेज पर मिलीं विदेशी कम्पनियों में नौकरीमथुरा । गत दो दशक से राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट लगातार युवाओं को उच्च व्यावसायिक शिक्षा के लिए जाना जाता है। शिक्षण की उन्नत तकनीक के साथ ही नवीन तकनीकों के अपडेशन और उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षण के चलते ही यह संस्थान छात्र-छात्राओं की पहली पसंद है। यहाँ के बीबीए कोर्स की अपनी विशेषता है। इस बात का पता इस तथ्य से चलता है कि बीबीए के यहाँ से पास आउट अब तक लगभग कई सैकड़ा छात्र-छात्राएं विदेशों में ख्याति प्राप्त कम्पनियों में उच्च पैकेज पर नौकरी कर रहे हैं तो बहुत से स्वयं का अपना व्यावसायिक संस्थान स्थापित कर पढ़े-लिखे बेरोजगारों को नौकरी दे रहे हैं।

राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट के बीबीए कोर्स की विशेषता यह भी है कि यहां फाइनल साल में पहुँचते ही छात्र-छात्राओं को बड़ी कम्पनियों में प्लेसमेंट मिल जाता है। यही कारण है कि 12वीं के बाद उच्च शिक्षा के लिए छात्र-छात्राएं राजीव एकेडमी को वरीयता दे रहे हैं। छात्र-छात्राओं का मानना है कि राजीव एकेडमी में बीबीए में प्रवेश लेने के बाद उन्हें अच्छी गुणवत्तायुक्त शिक्षा के साथ ही उन्हें प्लेसमेंट के माध्यम से उच्च पैकेज पर नौकरी भी मिलेगी। राजीव एकेडमी में बीबीए कोर्स में प्रथम सेमेस्टर से ही छात्र-छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए श्रेष्ठ प्लेटफार्म तैयार किया जाता है। राजीव एकेडमी में बीबीए स्तर पर होने वाली संगोष्ठियाँ और कार्यशालाएं छात्र-छात्राओं के मस्तिष्क को उनके सपनों को साकार करने के लिए रीचार्ज करने का कार्य करती हैं। 

आर.के. एजूकेशन हब के चैयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि आज के युवाओं में अपार ऊर्जा है। उस ऊर्जा को सकारात्मक दिशा प्रदान करने के लिए उन्हें गुणवत्तायुक्त व्यावसायिक शिक्षा प्रदान कर राष्ट्र सेवा की ओर उन्मुख किया जा सकता है। राजीव एकेडमी में लगातार ऐसे प्रयास किए जा रहे हैं।

Hits: 232

बी.ई-काम कोर्स से छात्र छात्राओं की उम्मीदों को लगे पंख

बी.ई-काम कोर्स से छात्र छात्राओं की उम्मीदों को लगे पंखमथुरा। आॅनलाइन शापिंग के दौर में राजीव एकेडमी के बी.ई-काम कोर्स की छात्रजगत में बढ़ती माँग को देखते हुए अब उक्त कोर्स के शिक्षण में उन सभी चैप्टरों को भी जोड़ा जा रहा है जो छात्र-छात्राओं का स्वर्णिम भविष्य बना सकते हैं। 

आज ई-व्यापार ने पूरी दुनिया के लोगों की रुचि में बदलाव पैदा कर व्यापार के क्षेत्र में एक नई क्रांति ला दी है। विश्व की लोकप्रिय ख्यातिनाम बड़ी कम्पनियाँ जैसे फ्लिप कार्ड, अमेजन, स्नैपडील, ईबे, जबौंग, पेटीएम आदि अपने सभी कार्य आन लाइन कर रही हैं इसलिए इन सभी विश्व प्रसिद्ध कम्पनियों में ई-कामर्स के स्नातक छात्र-छात्राओं की उच्च पैकेज पर जाब के लिए बड़ी मांग है। आरके एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने कहा कि ई-काॅमर्स पाठ्यक्रम के उच्चस्तरीय शिक्षण में छात्र-छात्राओं की रुचि बढ़ रही है। इस पाठ्यक्रम को उत्तीर्ण कर छात्र स्वयं का आनलाइन उद्यम स्थापित कर देश में बढ़ती बेरोजगारी को दूर कर सकते हैं। इस कोर्स को पूरा करने के बाद पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।  प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने कहा कि ई-कामर्स का सैद्धान्तिक और प्रयोगात्मक शिक्षण राजीव एकेडमी में लगातार छात्र-छात्राओं को दिया जा रहा है। निदेशक डा. अमर कुमार सक्सैना का कहना है कि आज के दौर में इलेक्ट्रानिक कामर्स पाठ्यक्रम छात्र-छात्राओं के लिए सबसे अधिक महत्व का है जिसके अध्ययन के लिए राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट में विशेष व्यवस्थाएं हैं। ई-कामर्स पाठ्यक्रम उत्तीर्ण करने के बाद छात्र-छात्राएं अपना स्वयं का व्यापार कम से कम लागत में शुरू कर सकते हैं। 

Hits: 239

इन्हें भी पढ़ें

loading...

Shri Bankey Bihari Temple - Summer = Morning - 7:45 - 12:00 - Evening 5:30 - 9:30 = Aarti 9:00 PM || Winter = Morning - 8:45 - 1:00 = Evening - 4:30 - 8:30 = Aarti - 8:30PM @ || Prem Mandir = Summer - Morning - +++ 8:30 - 12:00 = Evening - 4:30 - 8:30 || Winter - Morning - 8:30 - 12:00 = Evening - 4:30 - 8:30 @ || Sri Radhavallabh Temple = Summer - Mangla - 5:00 Morning - 7:00 - 12:00 = Evening - 6:30 - 9:00 || Winter - Mangla - 5 : 30 Morning - 7 : 00 - 12:00 = Evening - 6:30 - 9:00 @ || Sri Radha Raman Temple = Mangla - 5:00 Morning - 5:00 - 12:15 = Evening - 6:00 - 9:00 || Winter - Morning - 5:00 - 12:15 = Evening - 6:00 - 9:00 @ || ISKCON Vrindavan = Summer - Morning - 7 : 00 - 12 : 45 = Evening - 4:30 - 8:30 || Winter - Morning - 7:30 - 12:30 = Evening - 4:00 - 8:00 @ || Shri Rang Ji Mandir = Summer - Morning - 5:30 - 10:30 = Evening - 4:00 - 9:00 = Aarti Morning - 5:30 - 6:00 = Aarti Evening - 6 : 30 - 7 : 00 || Winter - Morning - 6:00 - 11:00 = Evening - 3:30 - 8:50 = Aarti Morning - 6:00 - 6:30 = Aarti Evening - 6:00 - 6:30 @ || Katyayani Peeth (Vrindavan) = Summer - Morning - 7:00 - 11:00 = Evening - 5:30 - 8:00 || Winter - Morning - 7:00 - 11:00 = Evening - 5:30 - 8:00 @ || Shri Birla Mandir (Vrindavan) = Summer - Morning - 5:00 - 12:00 = Afternoon - 2:00 - 9:00 || Winter - Morning - 5:30 - 12:00 = Afternoon - 2:00 - 8:30 @ || Shriji Temple (Barsana) = Summer - Morning - 5:00 - 12:30 = Evening - 4:30 - 8:30 || Winter - Morning - 5:00 - 12:30 = Evening - 4:30 - 8:30 @ || Shri Krishna Janmabhoomi (Mathura) = Summer - Morning - 5:00 - 12:00 = Evening - 4:00 - 9:00 || Winter - Morning - 6:00 - 12:00 = Evening - 3:00 - 8:00 @ || Shri Dwarkadhish Temple (Mathura) = Summer - Mangla - 6:30 - 7:00 = Shrinagar - 7:40 - 7:55 = Gwal - 8:25 - 8:40 = Sayan - 6:30 - 7:00 || Winter - Mangla - 6:30 - 7:00 = Shrinagar - 7:40 - 7:55 = Gwal - 8:25 - 8:40 = Sayan - 6:00 - 6:30 @ || Vishram Ghat (Mathura) = Summer - Aarti - 7:00 - 7:15 AM || Winter - Aarti - 6:45 - 7:00 AM @ || Goverdhan = Summer - Morning - 5:30 - 11:00 = Evening - 4:00 - 10:00 || Winter - Morning - 5:30 - 11:00 = Evening - 4:00 - 10:00 @ || Barsana = Summer - Morning - 5:30 - 11:00 = Evening - 5:00 - 8:00 || Winter - Morning - 5:30 - 11:00 = Evening - 5:00 - 8:00 @ || Nand Gaon = Summer - Morning - 6:00 - 11:00 = Evening - 4:30 - 7:30 || Winter - Morning - 6:00 - 11:00 = Evening - 4:30 - 7:30

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Best Viewed in 1024x768 resolution. Copyright @ 2015 Mathuraxpress.com. All Rights Reserved. Powered By Mediabharti Web Solutions